यू.यस. ब्रोकरेज एकौंट कैसे खोलें?

Adam Fayed
15 min readJan 8, 2020

ब्रोकरेज अकौंट (Brokerage Account):

एक मान्य लाइसेंस होनेवाली एक ब्रोकरेज फर्म (brokerage firm) में या नहीं तो कोई इन्वेस्टमेंट कंपनी (investment company) में होनेवाली अकौंट, जिसके साथ एक आदमी ‘स्टॉक्स’ (stocks), ‘म्यूच्यूअल फंड्स’ (mutual funds), ‘बांड्स’ (bonds), और दुसरे तरह के एसेट क्लास्सेस में इन्वेस्टमेंट कर सकता है, उसे हम ‘ब्रोकरेज अकौंट’ कहते हैं। एक आदमी अपने ब्रोकरेज एकौंट में होनेवाली मूल्य के साथ इंवेस्टमेंट्स कर सकता है। अगर कोई भी स्टॉक मार्केट में इंवेट्मेंट्स करना चाहता है तो उनको एक ब्रोकरेज अकौंट जरूर चाहिए।

ब्रोकरेज अकौंट्स इन्वेस्टर के आवश्यकताओं के अनुसार उपलब्ध होते हैं। वे साड़ी तरह के सेवाओं के साथ महंगा दाम में उपलब्ध होते हैं या बड़े डिस्कौंट्स के साथ ऑनलाइन प्लेटफार्म के रूप में भी उपलब्ध होते हैं।

कोई भी एसेट्स के लाभ या नष्ट बस इन्वेस्टर को ही होते हैं और फर्म का इससे कोई लेना देना नहीं होता है। फर्म्स कमीशंस और फीज़ चार्ज करते हैं।

ब्रोकरेज अकौंट्स बहुत तरह के एसेट्स में एक्सेस देते हैं जैसे की स्टॉक्स, बांड्स, म्यूच्यूअल फंड्स, आदि। कुछ तरह के ब्रोकरेज फर्म्स कई तरह के जटिल इंवेस्टमेंट्स में भी एक्सेस देते हैं, जैसे की फ्यूचर्स, फोरेक्स, ऑप्शंस, सी. ऍफ़. डी. स, आदि।

अधिकांश ब्रोकरेज फर्म्स इन्वेस्टर को बहुत सरल और आसान कदमों में ऑनलाइन अकौंट बनाने की अनुमति देते हैं। इन्वेस्टर बैंक ट्रान्सफर, ई-वॉलेट, क्रेडिट कार्ड, डेबिट कार्ड, आदि जैसे विभिन्न तरीकों से पैसे अपने अकौंट में जमा करने में सफल हो सकते हैं। लगभग सभी ऑनलाइन ब्रोकर एकौंट खोलते समय किसी भी प्रकार का शुल्क(charge) नहीं लेते हैं। अधिकांश अकौंट में होनेवाली सब लेनदेन प्रक्रियाओं का समय एक सप्ताह से ज्यादा नहीं होती है।

इन्वेस्टर अधिक नकदी की आवश्यकता के बिना ही एक फर्म के भीतर एक अकौंट खोल सकता है। बहुत ऑनलाइन ब्रोकरस इन्वेस्टर्स को एक अकौंट खोलने की उपलब्धता देती हैं, जिसके लिए किसी भी प्रकार की प्रारंभिक जमा राशि की आवश्यकता नहीं होती है।

उस राशि की कोई सीमा नहीं है जिसे ब्रोकरेज खाते में जमा किया जा सकता है। हालांकि, प्रति दिन या एक सप्ताह में लेनदेन की सीमा हो सकती है। किसी भी व्यक्ति के कई ब्रोकरेज अकौंट्स हो सकते हैं।

इन्वेस्टर्स ब्रोकरेज अकौंट्स के माध्यम से इन्वेस्ट करते समय टैक्स से संबंधित विशेषाधिकारों का आनंद नहीं ले सकते हैं जो रिटायरमेंट अकौंट्स से प्राप्त होते हैं। रिटायरमेंट अकौंट्स की तुलना में लाभ यह है कि व्यक्ति को विथड्रावल, मिनिमम इन्वेस्टमेंट राशि, आदि से संबंधित कोई प्रतिबंध नहीं होते हैं। इन्वेस्टर अपने अकौंट से जब चाहे तब उसकी आवश्यकताओं के अनुसार धनराशि निकालने में सफल हो सकता है।

इन्वेस्टर्स जो ब्रोकरेज अकौंट बनाना चाहते हैं, उनके लिए दो प्रकार के प्राथमिक विकल्प उपलब्ध होते हैं, जो हैं ऑनलाइन ब्रोकर और रोबो-एडवाइजर्स।

‘ऑनलाइन ब्रोकर’ — वह खाता जिसके माध्यम से इन्वेस्टर ब्रोकरेज फर्म की आधिकारिक वेबसाइट से इंवेस्टमेंट्स खरीदने या बेचने में सक्षम हो सकता है, उसे ऑनलाइन ब्रोकर अकौंट कहते हैं।

कई ऑनलाइन ब्रोकर निवेश की एक विस्तृत तरह के इंवेस्टमेंट्स जैसे की स्टॉक, फंड, बॉन्ड, आदि के लिए डिस्काउंट प्रदान करते हैं।

‘रोबो-एडवाइजर’ — रोबो-एडवाइजर्स एक डिजिटल प्लेटफॉर्म होते हैं जो एल्गोरिदम पर आधारित हैं जो रणनीतिक रूप से उन्नत और कुशल हैं, और इन्वेस्टर्स के द्वारा ध्यान देने की आवश्यकता नहीं होती है।

रोबो-एडवाइजर्स सर्वेक्षण बनाते हैं जिसके सहायता से वे संबंधित इन्वेस्टर्स की वित्तीय योजना और लक्ष्य प्राप्त करते हैं और अपनी ओर से आवश्यक रूप से इन्वेस्टर के बदले में इन्वेस्टमेंट करने में सहायता करते हैं।

सामान्य तौर पर, इन्वेस्टर्स कैश अकौंट्स या मार्जिन अकौंट्स में अपने आवश्यकता पर जो चाहे वो चुन सकते हैं। एक कैश अकौंट के लिए पूरी राशि की आवश्यकता होती है जिसे इन्वेस्टर इन्वेस्ट करना चाहता है, जबकि एक मार्जिन अकौंट से इन्वेस्टर को कुछ राशि उधार लेने की फायदा होती है जो कि निवेशक को उपयोगी होगी।मार्जिन अकौंट कैश एकौंट से ज्यादा जोखिम (risk) से भरा होता है।

एक ब्रोकरेज अकौंट 15 मिनट या और भी काम समय के भीतर बनाया जा सकता है और यह अनिवार्य है कि जो व्यक्ति अकौंट बना रहा है उसकी आयु कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए। कुछ मामलों में, निवेशक के माता-पिता उन्हें अपने बच्चों के लिए ब्रोकरेज एकौंट बनाने में मदद कर सकते हैं जिनकी आयु 18 वर्ष से कम है।

कुछ ऑनलाइन ब्रोकर दूसरों की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक शुल्क वसूलते समय अच्छा शोध, विशेषज्ञ मार्गदर्शन, इन्वेस्टमेंट से संबंधित शिक्षा, विशेषज्ञ फैनांशियल सलाहकारों की सलाह आदि प्रदान करते हैं।

वेल्स फ़ार्गो (Wells Fargo Advisors), मॉर्गन स्टेनली (Morgan Stanley), मेरिल लिंच (Merrill Lynch) आदि जैसे पूर्ण-सेवा ब्रोकरेज अकौंट्स अपने कस्टमर्स को अधिक लाभ प्राप्त करने के लिए उन्नत रणनीति और निवेश योजना विकसित करने के लिए मार्गदर्शन करते हैं। डिस्काउंट ब्रोकरेज अकौंट्स जैसे कि चार्ल्स श्वाब (Charles Schwab), ई * ट्रेड (E*Trade), फिडेलिटी (Fidelity), वैनगार्ड(Vanguard) आदि में इस तरह की सुविधा का अभाव है और इन्वेस्टर्स को तुलनात्मक रूप से कम फीस प्रदान करता है।

इन्वेस्टर्स के लिए विभिन्न प्रकार के ब्रोकरेज अकौंट्स की उपलब्धता अलग-अलग सुविधाओं जैसे निष्पादन की गति, विश्लेषण के उपकरण, एसेट्स की उपलब्धता आदि के आधार पर होती है। इन्वेस्टर अपनी आवश्यकताओं के आधार पर इनमें से चयन कर सकते हैं।

यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट:

ब्रोकरेज एकौंट जीवके माध्यम से कोई व्यक्ति यू. यस. स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट करने में सक्षम हो सकता है, उसे यू.एस. ब्रोकरेज अकौंट के रूप में जाना जाता है। यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट के द्वारा इन्वेस्टर को कई लाभ प्राप्त हो सकते हैं।

‘ यू.एस. ब्रोकरेज खाता होने के लाभ ’- यू. यस. स्टॉक मार्केट दुनिया का सबसे बड़ा स्टॉक मार्केट है जो दुनिया भर के कई इन्वेस्टर्स के लिए सबसे पसंदीदा विकल्प है। जब यू. यस. की कोई छोटी कंपनी में इन्वेस्टर कम मात्रा में ट्रेड करना चाहता है तो अमेरिका की पौरत्व की कोई जरूरत नहीं है।

अन्य देशों के ब्रोकरेज अकौंट्स की तुलना में यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट्स को सबसे कुशल ब्रोकरेज अकौंट्स होने का सुझाव दिया जाता है। इन्वेस्टर्स को प्रभावी दाम के साथ कई प्रकार की ग्लोबल एसेट्स में चुनने का मौका मिलती है। यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट्स में स्थिर सरकारी नियम और इन्वेस्टमेंट के लिए संरक्षण कार्यक्रम (जैसे सेक्युरिटीस इन्वेस्टमेंट प्रोटेक्शन कारपोरेशन) हैं। यह इन्वेस्टर्स की सुरक्षा में मदद करता है और इससे होने वाले नुकसान को नियंत्रित करता है।

जब कई यूरोपीय प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में, यू.एस. ब्रोकरेज अकौंट्स कम शुल्क, प्रभावी सेवाएं आदि प्रदान करते हैं, तो लेन-देन बहुत आसानी से किया जा सकता है, भले ही निवेशक यू. यस. से दूर हो। अमेरिकी ब्रोकरेज अकौंट्स विभिन्न प्रकार की एसेट्स जैसे स्टॉक, बॉन्ड, म्यूचुअल फंड और सर्टिफिकेट ऑफ़ डिपाजिट में एक्सेस प्रदान करते हैं। यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट्स के साथ, व्यक्ति दोनों अमेरिका की कंपनियों के साथ-साथ वैश्विक कंपनियों में भी ट्रेड करने में सक्षम हो सकता है।

कराधान (taxation) से संबंधित अमेरिका की कानूनों को लाभांश आय रिपोर्ट और कर जानकारी (dividend income reports and tax information) की आवश्यकता होती है यदि कोई व्यक्ति वैश्विक कंपनियों में इन्वेस्टमेंट करने जा रहा है।

अन्य देशों की इन्वेस्टमेंट कंपनियां आई. आर. एस फॉर्म (IRS) 1099 (जो लाभांश आय की रिपोर्ट प्रस्तुत करती हैं) जैसे लाभांश आय रिपोर्ट का उत्पादन नहीं करती हैं। हालांकि यह एक समय लेने वाली प्रक्रिया है, व्यक्ति योग्य लाभांश के कराधान से लाभ उठा सकता है। उदाहरण के लिए, वर्ष 2011 में आई. आर. एस नियमों के अनुसार सामान्य इनकम टैक्स की दर 25% थीं, उसी समय योग्य लाभांश के लिए टैक्स की दरें केवल 15% थीं।

लाभांश आय रिपोर्ट के लिए एक और पृष्ठभूमि यह है कि पूंजीगत लाभ (capital gains) अल्पकालिक और साथ ही दीर्घकालिक दोनों के लिए, लाभांश, योग्य लाभांश, ब्याज के लिए टैक्स इत्यादि जैसी विशेषताएं संबंधित देश के आधार पर भिन्न हो सकती हैं। इसलिए, कुछ देश प्रभावी रूप से आवश्यक जानकारी का उत्पादन करने में सक्षम नहीं हो सकते हैं (आई. आर. एस के अनुसार नियमों के साथ मिलने के लिए)।

व्यक्ति को सभी आवश्यक जानकारी प्राप्त करना अनिवार्य है और दंड और जर्माना उन लोगों के लिए ज्यादा हो सकते हैं जो आवश्यक जानकारी का उत्पादन करने में कामियाब नहीं होते हैं। इसलिए, कोई भी व्यक्ति यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट से 1099 फॉर्म की मदद लेकर आवश्यक जानकारी का उत्पादन करने में सक्षम हो सकता है।

सेक्यूरिटी इन्वेस्टर प्रोटेक्शन कारपोरेशन (SIPC) ब्रोकर / डीलर की विफलता के मामले में निवेशक सुरक्षा (investor protection) की पुष्टि करता है कि निवेशक (investor) उनके संबंधित खाते में $ 500,000 का कवरेज मूल्य रखता है। ज्यादातर मामलों में, निवेशक के अकौंट के पूरे मूल्य को कवर करने के लिए तीसरे पक्ष के बीमा पर विचार किया जाता है।

संयुक्त राज्य में अधिकांश इंवेस्टमेंट्स होने से, इन्वेस्टर एफ. बी. ए. आर (Report for Foreign Bank and Financial Accounts) दर्ज करने में सक्षम है। यह कुछ संस्थानों और खातों की रिपोर्ट करने की आवश्यकता होने पर उपयोगी होता है।

यह सुझाव दिया जाता है कि एक ऑनलाइन ब्रोकर के पास पर्याप्त मात्रा में अनुभव और इन्वेस्टर के देश के साथ-साथ यू. यस. में एक वैध लाइसेंस है, क्योंकि करेंसी, इन्वेस्टमेंट और टैक्सेस से संबंधित जोखिमों के प्रबंधन की प्रक्रिया को बहुत जटिल कार्य माना जाता है।

यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट बनाने के तरीके:

दो प्राथमिक तरीके हैं जिनके माध्यम से एक व्यक्ति यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट बनाने में सक्षम हो सकता है। वो हैं:

‘यू. यस. स्टॉक मार्केट में प्रवेश होनेवाली वित्तीय संस्थान’ (Financial Institutions with access to U.S. Stock Market) — इन्वेस्टर्स विदेशी वित्तीय संस्थानों (Foreign Financial Institutions) की मदद से यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट बनाने में सक्षम हो सकते हैं, जो इन्वेस्टर्स को यू. यस. स्टॉक एक्सचेंजों तक पहुंच प्रदान करते हैं। इन वित्तीय संस्थानों को संबंधित इन्वेस्टर के निवास और पौरत्व के प्रूफ की भी आवश्यकता होती है।

ये वित्तीय संस्थान यू. यस. वित्तीय फर्मों (जैसे मेरिल लिंच) के साथ भागीदार बनकर इन स्टॉक मार्केटों में एक्सेस प्राप्त करते हैं या वे वैश्विक डिपॉजिटरी रिसीट्स के माध्यम से एक्सेस प्राप्त करते हैं।

उदाहरण के लिए, एक यू. के. इन्वेस्टर साक्सो बैंक (saxo bank), बार्कलेज (barclays) आदि जैसे वित्तीय संस्थानों के साथ ब्रोकरेज अकौंट खोलकर यू. यस. स्टॉक मार्केट में एक्सेस प्राप्त करने में सक्षम हो सकता है, इसी तरह, प्रत्येक देश की अपनी ब्रोकरेज फर्म या वित्तीय संस्थान होते हैं जिनके माध्यम से एक इन्वेस्टर ब्रोकरेज अकौंट बनाकर यू. यस. स्टॉक मार्केट में एक्सेस प्राप्त कर सकता है।

‘यू. यस. आधारित ब्रोकर’ (US-based Broker) — एक निवेशक होने के नाते (जो यू. यस. से नहीं है), यू.एस. ब्रोकरेज अकौंट खोलने के लिए सबसे आसान तकनीकों में से एक यू.एस. ब्रोकर के साथ एक खाता खोलना है।

यद्यपि अधिकांश ऑनलाइन ब्रोकर गैर-निवासी इन्वेस्टर्स को ट्रेडिंग अकौंट प्रदान नहीं करते हैं, लेकिन उनमें से कुछ ऑनलाइन ब्रोकर्स (कुछ चयनित देशों को) प्रदान करते हैं, जिसके माध्यम से व्यक्ति अकौंट होने से इन्वेस्टमेंट करने में सफल होता है।

कुछ प्रसिद्ध ऑनलाइन ब्रोकर जो अनिवासी इन्वेस्टर्स के लिए अकौंट बनाते हैं:

‘टीडी अमेरिट्रेड’ (T D Ameritrade) — 100 से अधिक देशों के अनिवासी निवेशक टीडी अमेरिट्रेड की मदद से यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट बनाने में सक्षम हैं। कुछ देश जो टी. डी. अमेरिट्रेड की एक अकौंट की मदद से एक्सेस नहीं कर पा सकते हैं, वे हैं यूरोपीय संघ, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया। इन देशों के इन्वेस्टर्स के लिए कुछ अपवादों के साथ कुछ अन्य संभावनाएं हैं।

‘इंटरएक्टिव ब्रोकर्स’ (Interactive Brokers) — यह सबसे अच्छे ऑनलाइन ब्रोकरों में से एक माना जाता है, इंटरएक्टिव ब्रोकर्स से यू.एस. ब्रोकरेज अकौंट बनाकर गैर-निवासी निवेशकों को यू. यस. स्टॉक एक्सचेंज में एक्सेस प्रदान करते हैं। यू.एस. स्टॉक मार्केट में ट्रेड करने के लिए 220 से अधिक देशों के लोग (लगभग पूरे विश्व में) एक ऑनलाइन अकौंट बना सकते हैं।

जिन देशों से इन्वेस्टर्स इंटरएक्टिव ब्रोकर्स के साथ अकौंट खोल सकते हैं, वे हैं:

• अलैंड द्वीप समूह

• अल्बानिया

• अल्जीरिया

• अमेरिकन समोआ

• अंडोरा

• अंगुइला

• अंटार्कटिका

• अंतिगुया और बार्बूडा

• अर्जेंटीना

• आर्मीनिया

• अरूबा

• ऑस्ट्रेलिया

• ऑस्ट्रिया

• अज़रबैजान

• बहामास

• बहरैन

• बांग्लादेश

• बारबाडोस

• बेल्जियम

• बेलीज

• बेनिन

• बरमूडा

• भूटान

• बोलीविया

• बोस्निया और हर्जेगोविना

• बोत्सवाना

• ब्राजील

• ब्रिटेन और भारतीय समुद्री क्षेत्र

• ब्रिटिश वर्जिन द्वीप समूह

• ब्रुनेई दारुस्सलाम

• बल्गारिया

• बुर्किना फासो

• बरंडी

• कंबोडिया

• कैमरून

• कनाडा

• केप वर्दे

• केमैन आइलैंड्स

• चाड

• चैनल द्वीप समूह और जर्सी

• चिली

• चैना

• कोलम्बिया

• कोमोरोस

• कुक द्वीपसमूह

• कोस्टा रिका

• क्रोएशिया

• कुराकाओ

• सिप्रस

• चेक रिपब्लिक

• डेनमार्क

• जिबूती

• डोमिनिका

• डोमिनिकन रिपब्लिक

• ईस्ट तिमोर

• इक्वडोर

• ईजिप्ट

• एल साल्वाडोर

• इक्वेटोरियल गिनी

• इरिट्रिया

• एस्टोनिया

• इथियोपिया

• फैरो द्वीप समूह

• फ़ॉकलैंड द्वीप (माल्विनास)

• फ़िजी

• फिनलैंड

• फ्रांस

• फ्रेंच गयाना

• फ्रेंच पॉलीनेशिया

• गैबॉन

• गाम्बिया

• जॉर्जिया

• जर्मनी

• घाना

• जिब्राल्टर

• ग्रीस

• ग्रीनलैंड

• ग्रेनेडा

• ग्वाडेलोप

• गुआम

• ग्वाटेमाला

• ग्वेर्नसे

• गिनी

• गिनी-बिसाऊ

• गयाना

• हैती

• होली सी

• होंडुरास

• हंगरी

• आइसलैंड

• भारत

• इंडोनेशिया

• आयरलैंड

• ऑयल ऑफ़ थ मैन

• इजराइल

• इटली

• जमैका

• जापान

• जॉर्डन

• कज़ाकस्तान

• केन्या

• किरिबाती

• कोरिया

• कुवैत

• किर्गिस्तान

• लाओ पीपुल्स डेमोक्रेटिक रिपब्लिक

• लातविया

• लेबनान

• लेसोथो

• लाइबेरिया

• लिकटेंस्टीन

• लिथुआनिया

• लक्समबर्ग

• चैना का मकाओ विशेष प्रशासनिक क्षेत्र

• मेडागास्कर

• मलावी

• मलेशिया

• मालदीव

• माली

• माल्टा

• मार्शल द्वीप समूह

• मार्टीनिक

• मॉरिटानिया

• मॉरिशस

• मैयट

• मेक्सिको

• माइक्रोनेशिया, फेडरेटेड स्टेट्स

• मोनाको

• मंगोलिया

• मोंटेनेग्रो

• मोंटेसेराट

• मोरक्को

• मोजाम्बिक

• नमीबिया

• नेपाल

• नेदरलैंड

• नेदरलैंड्स एंटाइल्स

• न्यू कैलेडोनिया

• न्यूजीलैंड

• निकारागुआ

• नाइगर

• नियू

• नॉरफ़ोक द्वीप

• उत्तरी मरीयाना द्वीप समूह

• नॉर्वे

• फिलिस्तीनी क्षेत्र

• ओमान

• पाकिस्तान

• पलाऊ

• पनामा

• पापुआ न्यू गिनी

• पैराग्वे

• पेरू

• फिलीपींस

• पिटकेर्न

• पोलैंड

• पोर्चुगल

• प्यूर्टो रिको

• कतर

• रिपब्लिक ऑफ़ मोल्दोवा

• रीयूनियन

• रोमानिया

• रशियन फेडरेशन

• रवांडा

• सेंट हेलेना

• सेंट किट्ट्स और नेविस

• सेंट लूसिया

• सेंट पियरे और मिकेलॉन

• सेंट विंसेंट अँड थे ग्रेनडीनेस

• समोआ

• सैन मैरीनो

• साओ टोमे और प्रिंसिपे

• सौदी अरेबिया

• सेनेगल

• सर्बिया

• सेशेल्स

• सिंगपुर

• स्लोवाकिया

• स्लोवेनिया

• सोलोमन इस्लैंडस

• दक्षिण अफ्रीका

• स्पेन

• श्री लंका

• सूरीनेम

• स्वालबार्ड और जान मेयन द्वीप

• स्वाजीलैंड

• स्वीडन

• स्विट्जरलैंड

• ताइवान (चैना रिपब्लिक)

• तजिकिस्तान

• थाईलैंड

• मैसडोनिया के पूर्व यूगोस्लाव रिपब्लिक

• टोगो

• टोकेलाऊ

• टोंगा

• त्रिनिदाद और टोबैगो

• ट्यूनीशिया

• टर्की

• टर्कमेनिस्तान

• टर्क्स और कैकोज़ द्वीपसमूह

• तुवालु

• युगांडा

• यूक्रेन

• यूनाइटेड अरब एमिरेट्स

• यूनाइटेड किंगडम

• यूनाइटेड रिपब्लिक ऑफ तंजानिया

• यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका

• यूनाइटेड स्टेट्स वर्जिन आइलैंड्स

• उरुग्वे

• उज़्बेकिस्तान

• वानुअतु

• वेनेजुएला

• वियतनाम

• वालिस और फ़्यूचूना द्वीप

• वेस्टर्न सहारा

• जाम्बिया

‘चार्ल्स श्वाब ‘ (charles schwab) — 100 देशों के लोग एक ऑनलाइन अकौंट बनाकर यू. यस. स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं। टी. डी. अमेरिट्रेड के विपरीत, चार्ल्स श्वाब यूरोपीय संघ के निवेशकों के लिए भी अकौंट प्रदान करता है।

अन्य ऑनलाइन ब्रोकर जैसे कि फर्स्ट्रेड (Firstrade), एम्. बी. ट्रेडिंग (MBTrading), जेको (Zecco), ट्रैडेस्टेशन (TradeStation), सोगोट्रेड (Sogotrade), और जस्ट टु ट्रेड (Just2Trade) भी गैर-निवासी इन्वेस्टर्स को उनके द्वारा उल्लिखित विशिष्ट स्थानों से ऑनलाइन ब्रोकरेज अकौंट्स प्रदान करते हैं।

गैर-निवासी के रूप में यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट प्राप्त करना:

एक सबसे आम सवाल जो यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका के अलावा किसी अन्य देश के निवेशक के दिमाग में आता है, वह है “क्या मैं यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका का निवासी नहीं होने पर भी यू.एस. ब्रोकरेज अकौंट खोल सकता हूँ?” हां, निवेशक यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट खोलने में सक्षम हो सकते हैं और यू. यस. स्टॉक मार्केट में ट्रेड कर सकते हैं।

एक और बेहतर बात यह है कि वे अपने घर से मुफ्त में ऐसा करने में सफल हो सकते हैं। हालांकि, गैर-निवासियों को ब्रोकरेज अकौंट खोलने के लिए निवासियों की तुलना में अधिक प्रलेखन प्रस्तुत करना आवश्यक है। कुछ फर्मों को ऑनलाइन दस्तावेजों के बजाय कागज दस्तावेजों की भी आवश्यकता होती है।

यू. यस. ट्रेडिंग अकौंट बनाने की प्रक्रिया:

ऑनलाइन यू. यस. ब्रोकरेज अकौंट बनाने के लिए, व्यक्ति को एक निश्चित प्रक्रिया का पालन करना होगा। सबसे पहले, यह पता लगाना बेहद जरूरी है कि ऑनलाइन ब्रोकर इन्वेस्टर के देश से क्लाइंट स्वीकार करते हैं या नहीं। यदि ब्रोकर द्वारा उस देश को स्वीकार कर लिया जाता है जिसे व्यक्ति ने चुना है, तो उसे संबंधित ब्रोकर के बारे में संक्षेप में पढ़ने और मानक प्रक्रियाओं को समझने की आवश्यकता होती है।

ब्रोकर के एफ. ए. क्यू पेज को पढ़ना भी फायदेमंद हो सकता है। उसके बाद, निवेशक को उन दस्तावेजों पर ध्यान देना होगा जिन्हें जमा किया जाना है और अकौंट बनाने की प्रक्रिया है। संबंधित ब्रोकर के कस्टमर सपोर्ट से संपर्क करके व्यक्ति इस प्रकार की जानकारी भी जान सकता है।

अधिकांश ब्रोकर्स द्वारा सबसे सामान्य दस्तावेजों की आवश्यकता हो सकती है जो पहचान और निवास के प्रूफ होते हैं। पहचान के प्रूफ के लिए, कोई व्यक्ति अंतर्राष्ट्रीय पासपोर्ट, अंतर्राष्ट्रीय ड्राइवर्स लाइसेंस, नेशनल आईडी कार्ड इत्यादि जैसे दस्तावेज प्रस्तुत कर सकता है। निवास के प्रूफ के लिए, कोई व्यक्ति यूटिलिटी बिल, वोटर आयडी कार्ड इत्यादि जैसे दस्तावेज प्रस्तुत कर सकता है।

अधिकांश ब्रोकर्स को पासपोर्ट और यूटिलिटी बिल की आवश्यकता होती है। इसलिए, यह बेहतर है कि इन दोनों को व्यवस्थित और उपलब्ध रखा जाए। उसके बाद, ऑनलाइन ब्रोकर की वेबसाइट खोलें और अकौंट बनाने के लिए आवश्यक फॉर्म भरें। कुछ फॉर्म्स में व्यक्ति के हस्ताक्षर की आवश्यकता होती है, इसलिए व्यक्ति को एक प्रिंटआउट लेना होगा और उन्हें मैन्युअल रूप से हस्ताक्षर करना होगा।

जैब इन्वेस्टर यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका से नहीं है, डब्ल्यू -8 बी. ई. एन. फॉर्म पर हस्ताक्षर करना अनिवार्य है (जो व्यक्ति के निवास और टैक्सेस के विवरण के बारे में जानकारी देता है)।

दस्तावेजों में हस्ताक्षर और फॉर्म भरने के बाद, व्यक्ति या तो उन्हें स्कैन कर सकता है और उन्हें ईमेल कर सकता है या वह इसे सीधे ऑनलाइन ब्रोकर की वेबसाइट पर अपलोड कर सकता है।

ऑनलाइन ब्रोकर के पास एप्लिकेशन की समीक्षा करने और एक ईमेल के माध्यम से आवेदन की स्थिति (चाहे स्वीकार या अस्वीकार) भेजने के लिए एक टीम होती है। ब्रोकर द्वारा सफलतापूर्वक स्वीकार किए जाने के बाद, व्यक्ति अपने अकौंट में फंड्स जोड़ने में सक्षम हो सकता है। कई प्रकार के ब्रोकर्स द्वारा स्वीकार किए जाने वाले सबसे आम लेनदेन के तरीके वायर ट्रांसफर (wire transfer), पेपाल (paypal), ए. सी. एच ट्रांसफर (A C H transfer), डेबिट / क्रेडिट कार्ड ट्रांसफर (Debit/Credit card transfer), ई-वॉलेट्स (e-wallets), आदि हैं।

खाते को सफलतापूर्वक फंड्स याड करने के बाद, व्यक्ति यू. यस. स्टॉक मार्केट में ट्रेडिंग शुरू कर सकता है।

टैक्सेशन:

यू. यस. स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट करते समय ध्यान देने योग्य कुछ विषयों को याद रखना चाहिए जो टैक्स से संबंधित विवरण हैं। यह स्पष्ट है कि कोई भी व्यक्ति जो यू. एस. आधारित नहीं है और यू. यस. स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट कर रहा है, तो टैक्सेस की एक बड़ी मात्रा से निपटने के लिए तैयार रहना चाहिए।

आम तौर पर, अनिवासी इन्वेस्टर को इन्वेस्टमेंट से प्राप्त हुए इनकम पर 30% टैक्स का भुगतान करना पड़ता है। इन टैक्सेस की मूल्य को आम तौर पर संबंधित ऑनलाइन ब्रोकरेज फर्म द्वारा रोक दिया जाता है।

उन देशों के लोगों के लिए अपवाद है, जिनकी यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका के साथ टैक्स ट्रीटी है। यदि निवेशक उस देश से है जिसकी अमेरिका के साथ टैक्स ट्रीटी है, तो वे टैक्सेस की कम राशि का भुगतान करने का विशेषाधिकार प्राप्त कर सकते हैं जैसा कि हमने पहले चर्चा की है।

जिन देशों की यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका के साथ टैक्स ट्रीटी है, वे हैं आर्मेनिया, ऑस्ट्रेलिया, ऑस्ट्रिया, अज़रबैजान, बांग्लादेश, बारबाडोस, बेलारस, बेल्जियम, बुल्गेरिया, कनाडा, चैना, सिप्रस, चेक रिपब्लिक, डेनमार्क, ईजिप्ट, एस्टोनिया, फ्रांस, फिनलैंड, जॉर्जिया , जर्मनी, ग्रीस, हंगरी, आइसलैंड, भारत, इंडोनेशिया, आयरलैंड, इज़राइल, इटली, जमैका, जापान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, कोरिया, लातविया, लिथुआनिया, लक्समबर्ग, माल्टा, मैक्सिको, मोल्दोवा, मोरक्को, नेदरलैंड, न्यूजीलैंड, नॉर्वे, फिलीपींस, पोलैंड, पोर्चुगल, पाकिस्तान, रोमानिया, रशिए, स्लोवाक रिपब्लिक, स्लोवेनिया, दक्षिण अफ्रीका, स्पेन, श्रीलंका, स्वीडन, स्विट्जरलैंड, ताजिकिस्तान, थाईलैंड, त्रिनिदाद, ट्यूनीशिया, टर्की, टर्कमेनिस्तान, यूक्रेन, सोवियट सोशलिस्ट रिपब्लिक (यू. एस. एस. आर), यूनाइटेड किंगडम, यूनाइटेड स्टेट्स मॉडल, उज़्बेकिस्तान, और वेनेजुएला

डब्ल्यू -8 बी. ई. एन. फॉर्म आम तौर पर 3 साल के समय के लिए समाप्त होता है, इसलिए, इसे नवीनीकृत करने की सलाह दी जाता है। यदि कोई व्यक्ति ऐसा करने में विफल रहता है, तो उसे टैक्सेस के साथ एक विदेशी व्यक्ति की तरह व्यवहार करना होगा, भले ही वे उस देश से हों जहां यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका के साथ टैक्स ट्रीटी हो।

विदेशी निवासियों (ग्रीन कार्ड धारकों) के लिए टैक्सेस लगभग यू. यस. इन्वेस्टर्स के बराबर है क्योंकि आई. आर. एस द्वारा दुनिया भर में इनकम पर लगाए गए टैक्सेस के वजह से। इसलिए, गैर-मूल निवासियों के लिए टैक्स मूल्य नागरिकों के समान है।

उपसंहार:

यहां तक ​​कि यूनाइटेड स्टेट्स ऑफ अमेरिका के अलावा किसी अन्य देश से होने के नाते, एक व्यक्ति उपरोक्त उल्लिखित प्रक्रिया द्वारा ऑनलाइन ब्रोकर से ब्रोकरेज अकौंट बनाकर यू.यस. स्टॉक मार्केट में इन्वेस्टमेंट कर सकता है।

वैकल्पिक रूप से, वे कुछ वित्तीय संस्थानों (financial institutions) की सहायता से गैर-निवासी होने के साथ-साथ यू.एस. स्टॉक मार्केट में भी ट्रेडिंग कर सकते हैं, जिनके पास यू.एस. स्टॉक मार्केट में एक्सेस नहीं है।

किसी अकौंट के सफलता के बाद, सही शेयरों को चुनने, उन्नत रणनीति तय करने, नियमित रूप से इन्वेस्टमेंट की निगरानी करने का सुझाव दिया जाता है। एक शुरुआती ज्ञान वाला इन्वेस्टर शायद अपने दम पर इन्वेस्टमेंट करके सफलतापूर्वक लाभ प्राप्त करने में सक्षम न हो सकता है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि एक इन्वेस्टर जिसके पास इन्वेस्टमेंट से संबंधित न्यूनतम ज्ञान है, संभवतः सभी उपर्युक्त प्रक्रियाओं का नियमित रूप से पालन करने में सक्षम नहीं हो सकता है। इसलिए, हमारा सुझाव है कि इन्वेस्टर एक वित्तीय सलाहकार (financial advisor) से परामर्श करें (हमारे जैसे) और ट्रेडों के निष्पादन के लिए एक सही रणनीति बनाएं, इससे पहले कि वे एक गैर-निवासी इन्वेस्टर होने के नाते यू. यस. शेयरों में इन्वेस्टमेंट करने से संबंधित कोई भी निर्णय लें।

हम आपके निवेश करियर में बड़ी सफलता की कामना करते हैं और आशा करते हैं कि आप अपने सभी इंवेस्टमेंट्स से बहुत अधिक लाभ प्राप्त करने में सफल हो सकते हैं। आपके ट्रेडिंग कैरियर के साथ गुड लक।

advice@adamfayed.com

--

--